वित्त मंत्रालय की बड़ी घोषणाएं (Finance Ministry Latest Notification in Hindi)

                                                             वित्त मंत्रालय की बड़ी घोषणाएं  



The Minister of State for Commerce & Industry (Independent Charge), Smt. Nirmala Sitharaman addressing a press conference, in New Delhi on October 14, 2016.jpg

एमएसएमई के लिए 6 कदम उठाए जा रहे हैं, एमएसएमई को तीन लाख करोड़ रुपये का लोन दिया जाएगा। 31 अक्तूबर से लोन मिलेगा।  
1. 100 करोड़ वाली एमएसएमई यूनिट को लोन में राहत मिलेगी।  
2. बिना गारंटी के 3 लाख करोड़ रुपये तक का लोन। 
3. 45 लाख एमएसएमई को इससे फायदा होगा। 
4. एक साल तक मूल धन नहीं चुकाना होगा। 
5. एनपीए वाले एमएसएमई को भी मिलेगा लोन।
6. विस्तार करने वाले एमएसएमई को 50 हजार करोड़, तनाव वाले एमएसएमई को 20 हजार करोड़। 
7. फायदे के लिए एमएसएमई की परिभााषा में बदलाव। 50 करोड़ के टर्नओवर वाली यूनिट को एमएसएमई मानेंगे। 10 करोड़ के निवेश को लघु उद्योग मानेंगे। 1 करोड़ निवेश, 5 करोड़ टर्नओवर वाली यूनिट को सूक्ष्म उद्योग मानेंगे। 
8. विदेशियों की जगह देसी कंपनियों को काम। 200 करोड़ रुपये तक के सरकारी टेंडर में ग्लोबल टेंडर नहीं।  
9. 15 हजार रुपये से कम वेतन वालों का ईपीएफ अगस्त तक सरकार देगी। 
10. कर्मचारियों के लिए अगले तीन महीने यानि अगस्त तक 12 की जगह 10 फीसदी ईपीएफ योगदान। लेकिन सरकारी कर्मचारियों के लिए 12 फीसदी ही रहेगा। 
11. 72 लाख कर्मचारियों को ईपीएफ में राहत। 
12. एनबीएफसी के लिए 30 हजार करोड़ रुपये की स्कीम।
13. बिजली वितरण कंपनियों के लिए 90 हजार करोड़ रुपये की मदद। 
14. सरकारी ठेकेदारों को 6 महीने का विस्तार दिया जाएगा। 
15. टीडीएस में 25 फीसदी कटौती, टैक्स में 100 रुपये देते थे, अब 75 रुपये देने होंगे। जनता को 50 हजार करोड़ रुपये का फायदा। 
16. आईटीआर भरने की तारीख 30 नवंबर 2020 तक बढ़ाया जाएगा। टैक्स ऑडिशन को भी 31 अक्तूबर तक बढ़ा दिया जाएगा।
Post a Comment (0)
Previous Post Next Post